डिजिटल रूप से बनाया गया है, सूर्य ग्रहण करने वाले विशाल चंद्रमा का वीडियो

रामपुर

 06-06-2021 11:42 AM
आधुनिक राज्य: 1947 से अब तक
हाल ही में सोशल मीडिया पर एक 30 सेकंड का वीडियो वायरल हुआ है, जो कथित तौर पर आर्कटिक (Arctic) में बनाया गया है। इस वीडियो में एक विशाल चंद्रमा, सूर्य को ज्योतिहीन करते हुए या ग्रहण लगाते हुए दिखायी देता है। वीडियो में, चंद्रमा पृथ्वी की सतह से बहुत करीब दिखाई देता है, जिसके बाद वह सूर्य को ढक लेता है। सूर्य के छिप जाने से अंधेरा हो जाता है तथा चंद्रमा फिर क्षितिज के नीचे फीका पड़ने लगता है। यह वीडियो एक एनीमेशन जैसा प्रतीत होता है, जिसे टिक टॉक पर अलेक्सी एनएक्स (Aleksey_nx) नामक उपयोगकर्ता द्वारा बनाया गया है। कलाकार ने हाल ही में एक "यूएफओ ओवर द मून" (UFO over the moon) वीडियो भी बनाया है, जो बहुत वायरल हुआ, तथा हाई प्रोफाइल उपयोगकर्ताओं और मीडिया केंद्र द्वारा साझा किया गया। हालांकि, स्रोत के बिना भी, आसानी से यह पहचाना जा सकता है, कि वीडियो कंप्यूटर के माध्यम से बनाया गया है। चंद्रमा की पृथ्वी से औसत दूरी 238,000 मील (382,900 किलोमीटर) है। हालाँकि, पृथ्वी के चारों ओर इसकी कक्षा पूर्ण वृत्ताकार नहीं है, तथा यह कभी-कभी विशेष रूप से करीब होती है। पेरिगी (Perigee) या भू-समीपक (निकटतम बिंदु) पर चंद्रमा 225,623 मील (363,104 किलोमीटर) के करीब आ जाता है। अपोजी (Apogee) या भूम्युच्च (दूरस्थ बिंदु) पर चंद्रमा 252,088 मील (405,696 किलोमीटर) दूर होता है। पूर्णिमा या रक्त चंद्रमा के दौरान, कई फोटोग्राफर अग्रभूमि में दूरस्थ वस्तु के विपरीत चंद्रमा पर ज़ूम करते हैं, ताकि यह इमारतों या पेड़ों की तुलना में बड़ा दिखाई दे। हालांकि, मौजूदा वीडियो का एंगल इसे आसपास की वस्तुओं के बहुत करीब दिखाता है। हालांकि, स्पष्ट ज़ूम के बिना इतने नज़दीकी स्थान से देखे जाने पर चंद्रमा पृथ्वी के उतना करीब नहीं आता है, जितना कि वीडियो में दिखाया गया है। क्लिप में नीचे की झील में चंद्रमा का कोई प्रतिबिंब भी नहीं दिखायी देता है। चंद्रमा इतना चमकीला है, कि सूर्य के ग्रहण से बाहर आने के बाद भी नजर आता है। यह वीडियो में अपनी धुरी पर भी नहीं घूमता है, और जैसे ही यह कैमरे को विपरीत दिशा में ले जाता है, चंद्रमा का दूर का भाग दिखाई देता है। यह संभव नहीं है, क्योंकि चंद्रमा गुरुत्वाकर्षण लॉकिंग से पृथ्वी से बंधा हुआ है, और हम हर समय चंद्रमा का केवल एक ही भाग देख सकते हैं। आइए, इस सीजीआई वीडियो पर एक नजर डालते हैं और इसकी तुलना में पृथ्वी की कक्षा के करीब स्थित अन्य ग्रहों को देखते हैं।

संदर्भ:

https://bit.ly/3uOUgvu
https://bit.ly/3pr5fu8


RECENT POST

  • अध्यात्म और गणित एक ही सिक्के के दो पहलू हैं
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     21-05-2022 11:15 AM


  • भारत में प्रचिलित ऐतिहासिक व् स्वदेशी जैविक खेती प्रणालियों के प्रकार
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     20-05-2022 09:59 AM


  • भारत के कई राज्यों में बस अब रह गई ऊर्जा की मामूली कमी, अक्षय ऊर्जा की बढ़ती उपलब्धता से
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     19-05-2022 09:42 AM


  • मिट्टी के बर्तनों से मिलती है, प्राचीन खाद्य पदार्थों की झलक
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     18-05-2022 08:44 AM


  • काफी हर्षोल्लास के साथ मनाई जाती है संपूर्ण विश्व में बुद्ध पूर्णिमा
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     17-05-2022 09:46 AM


  • तीव्रता से विलुप्‍त होती भारतीय स्‍थानीय भाषाएं व् उस क्षेत्र से संबंधित ज्ञान का भण्‍डार
    ध्वनि 2- भाषायें

     17-05-2022 02:11 AM


  • जलीय पारितंत्र को संतुलित बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, शार्क
    व्यवहारिक

     15-05-2022 03:26 PM


  • क्या भविष्य की पीढ़ी के लिए एक लुप्त प्रजाति बनकर रह जाएंगे टिमटिमाते जुगनू?
    तितलियाँ व कीड़े

     14-05-2022 10:07 AM


  • गर्मियों में रामपुर की कोसी नदी में तैरने से पूर्व बरती जानी चाहिए, सावधानियां
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     13-05-2022 09:35 AM


  • भारत में ऊर्जा खपत पर जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने के लिए नीति और संरचना में बदलाव
    जलवायु व ऋतु

     11-05-2022 09:05 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id