भारत के वाइसराय (Viceroy) और विभिन्न राज्यों के राजा और नवाबों का चलचित्र

रामपुर

 05-05-2019 07:30 PM
उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

ब्रिटिश राज के अंतर्गत वायसराय (Viceroy) और भारत के रियासतों के नवाबों के बीच बातचीत और भोज का एक दुर्लभ चलचित्र हाल ही में ब्रिटिश फिल्म इंस्टिट्यूट (The British Film Institute) द्वारा जारी किया गया है।

ब्रिटिश शासन (British Rule) के तहत सलामी राज्य वो रियासत थी जिसे ब्रिटिश शासन (British Rule)(सर्वोच्च शासक के रूप में) द्वारा तोपों की सलामी (Gun Salute) दी गई थी। राज्य की सापेक्ष स्थिति की मान्यता के रूप में तोपों की सलामी की प्रणाली पहली बार 18 वीं शताब्दी के अंत में ईस्ट इंडिया कंपनी (East India Company) के समय में स्थापित की गई थी और 1858 से लेकर क्राउन शासन (Crown Rule) के तहत जारी रखी गई।

रामपुर राज्य ब्रिटिश भारत की 15 तोपों की सलामी रियासत (15 Gun Salute State) थी। यह 7 अक्टूबर 1774 को अवध के साथ एक संधि के परिणामस्वरूप अस्तित्व में आया। 1947 में स्वतंत्रता के बाद, रामपुर राज्य और क्षेत्र की अन्य रियासतों, जैसे कि बनारस और टिहरी-गढ़वाल को संयुक्त प्रांत में मिला दिया गया था। रामपुर राज्य की राजधानी रामपुर शहर में थी और इसका कुल क्षेत्रफल 945 वर्ग मील था।

ऊपर दिए गये चलचित्र में 1911 में भारत की राजधानी कलकत्ता से दिल्ली स्थानांतरित होने से पहले, बेलीवेडियर हाउस (Belvedere House) में पार्टी आयोजित की गई थी जिसमें वायसराय लॉर्ड इरविन (Viceroy Lord Irwin) और भारत के विभिन्न नवाबों और राजाओं (खासकर राज सरकार के प्रति निष्ठावान वो राज्य जिन्हें 21, 19, 17 या 15 तोपों की सलामी वाली रियासत का दर्जा दिया गया था।) के मध्य बातचीत और भोज को दिखाया गया है।

इस चलचित्र को दी ब्रिटिश फिल्म इंस्टिट्यूट (The British Film Institute) और दी ब्रिटिश काउंसिल (The British Council) द्वारा प्रसारित किया गया है।

सन्दर्भ:
1. https://en.wikipedia.org/wiki/Rampur_State
2. https://en.wikipedia.org/wiki/Salute_state
3. https://youtu.be/LHVTm4IW8iY



RECENT POST

  • भारत में क्यों बढ़ रही है वैकल्पिक ईंधन समर्थित वाहनों की मांग?
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     27-05-2022 09:21 AM


  • फ़ूड ट्रक देते हैं बड़े प्रतिष्ठानों की उच्च कीमतों की बजाय कम कीमत में उच्‍च गुणवत्‍ता का भोजन
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     26-05-2022 08:24 AM


  • रामपुर से प्रेरित होकर देशभर में जल संरक्षण हेतु निर्मित किये जायेगे हजारों अमृत सरोवर
    नदियाँ

     25-05-2022 08:08 AM


  • 102 मिलियन वर्ष प्राचीन, अफ्रीकी डिप्टरोकार्प्स वृक्ष की भारत से दक्षिण पूर्व एशिया यात्रा, चुनौतियां, संरक्षण
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     24-05-2022 07:33 AM


  • भारत में कोयले की कमी और यह भारत में विभिन्न उद्योगों को कैसे प्रभावित कर रहा है?
    खनिज

     23-05-2022 08:42 AM


  • प्रति घंटे 72 किलोमीटर तक दौड़ सकते हैं, भूरे खरगोश
    व्यवहारिक

     22-05-2022 03:30 PM


  • अध्यात्म और गणित एक ही सिक्के के दो पहलू हैं
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     21-05-2022 11:15 AM


  • भारत में प्रचिलित ऐतिहासिक व् स्वदेशी जैविक खेती प्रणालियों के प्रकार
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     20-05-2022 09:59 AM


  • भारत के कई राज्यों में बस अब रह गई ऊर्जा की मामूली कमी, अक्षय ऊर्जा की बढ़ती उपलब्धता से
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     19-05-2022 09:42 AM


  • मिट्टी के बर्तनों से मिलती है, प्राचीन खाद्य पदार्थों की झलक
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     18-05-2022 08:44 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id