माँ दुर्गा के नौ रूप

रामपुर

 07-04-2019 07:00 AM
विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

मनाईये नवरात्री माँ दुर्गा के नौ रूप और उनके मंत्रो के साथ।

माँ शैलपुत्री ॐ देवी शैलपुत्र्यै नमः
वह प्रकृति का पूर्ण रूप है और ब्रह्मा, विष्णु और महादेव की शक्ति का अवतार है।

माँ ब्रह्मचारिणी ॐ देवी ब्रह्मचारिण्यै नम:
यह माँ का अविवाहित, ब्रह्मचर्य रूप है।

माँ चंद्रघंटा ॐ देवी चन्द्रघण्टायै नम:
देवी का यह रूप अपने भक्तों की शांति और कल्याण की रक्षा के लिए, अपने सभी हथियारों के साथ युद्ध के लिए तैयार है।

माँ कूष्माण्डा ॐ देवी कूष्माण्डायै नम:
वह अपने भक्तों को सिद्धियाँ (अलौकिक शक्तियाँ) और निधियाँ (धन) देती हैं।

माँ स्कंदमाता ॐ देवी स्कन्दमातायै नम:
"आग की देवी" के रूप में पहचाना जाने वाला वह बच्चे स्कंद को अपनी गोद में रखती है।

माँ कात्यायनी ॐ देवी कात्यायन्यै नम:
उसे क्रोध, प्रतिशोध और राक्षसों पर अंतिम विजय के लिए जाना जाता है।

माँ कालरात्रि ॐ देवी कालरात्र्यै नम:
वह समय की मृत्यु है और स्वयं काल (समय) से अधिक है।

महागौरी ॐ देवी महागौर्यै नम:
महागौरी को क्षमा करने वाली देवी के रूप में जाना जाता है और पापियों को क्षमा कर उन्हें शुद्ध करती है।

माँ सिद्धिदात्री ॐ देवी सिद्धिदात्र्यै नम:
वह अपने भक्तों को सभी प्रकार की सिद्धि (अलौकिक शक्तियां) प्रदान करती हैं और इसलिए उनकी पूजा मनुष्य, घंडार्व, असुर और देव समान करते हैं।

संदर्भ:

वीडियो के निर्माता - जयपुर द पिंक सिटी (jaipurthepinkcity)



RECENT POST

  • जैन धर्म के दो समुदाय – दिगंबर और श्वेताम्बर
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-04-2019 12:05 PM


  • रोहिलखंड में कृषि क्षेत्र में प्रौद्योगिकी की भूमिका
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     17-04-2019 01:19 PM


  • रामपुर में लगी थी पहली विद्युतीय लिफ्ट (lift)
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     16-04-2019 04:23 PM


  • लोक कला का नाट्य अनुभव में परिवर्तन
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     15-04-2019 02:22 PM


  • हमारे भारत की पुरातत्व संस्कृति और शान
    द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

     14-04-2019 07:20 AM


  • भगवान विष्णु के दशावतार और चार्ल्स डार्विन (Charles Darwin) के सिद्धांत के बीच समानताएं
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     13-04-2019 07:00 AM


  • जलियांवाला बाग हत्याकांड के बाद भारतीयों पर पड़ा था गहरा प्रभाव
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     12-04-2019 07:00 AM


  • क्या तारेक्ष और ग्लोब एक समान हैं?
    वास्तुकला 2 कार्यालय व कार्यप्रणाली

     11-04-2019 07:05 PM


  • गर्मियों में पक्षियों के लिए करें पानी का प्रबंध
    पंछीयाँ

     10-04-2019 07:00 AM


  • राजनीति में अभिनेताओं का प्रवेश
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     09-04-2019 07:00 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.