जानवर एवं मनुष्य: रामपुर

रामपुर

 02-06-2017 12:00 PM
नगरीकरण- शहर व शक्ति
मानव और जानवरों का रिश्ता काफी पुराना है| यह अन्योन्याश्रित होते हैं तथा दोनों एक ही वातावरण में रह कर एक दूसरे की ज़रूरतों को पूर्ण करते हैं| अगर राज्य की सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की विज्ञप्ति को आधार माने तो रामपुर मे करीब डेढ लाख गायें तथा करीब चार लाख भैंसे हैं| इसके अलावा करीब एक लाख से ज्यादा बकरियां और 11 हज़ार सुअर व करीब 4.5 लाख मुर्गियाँ हैं| यहाँ प्रत्येक 8 इंसान पर एक दुधारू जानवर है और प्रत्येक 3 इंसान पर एक जानवर है| रामपुर में मांस का निर्यात भी काफी उच्च पैमाने पर होता है|

RECENT POST

  • महात्मा गाँधी के मदद से कैसे बनी चमड़े की चप्पले भारतीय आत्मनिर्भरता का प्रतीक
    स्पर्शः रचना व कपड़े

     19-03-2019 07:00 AM


  • इस्लामी वास्तुकला में रंगों का महत्व
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-03-2019 07:45 AM


  • तितलियों का कायांतरण - आखिर कैसे बड़ी होती है तितलियां
    तितलियाँ व कीड़े

     17-03-2019 09:00 AM


  • आखिर भारत में लौह उद्योग को आज किन चुनौतियों का सामना करना पर रहा है
    खदान

     16-03-2019 09:00 AM


  • क्या होता है जंक डीएनए?
    डीएनए

     15-03-2019 09:00 AM


  • रामपुर की एक महिला ने किया था ख़िलाफ़त आन्दोलन में गाँधी जी का सहयोग
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     14-03-2019 09:00 AM


  • घौंसले में रहने वाली चींटी
    तितलियाँ व कीड़े

     13-03-2019 09:00 AM


  • गणितीय पहाड़ों का उदगमन
    धर्म का उदयः 600 ईसापूर्व से 300 ईस्वी तक

     12-03-2019 09:00 AM


  • वन संरक्षण की एक मुहिम चिपको आंदोलन
    आधुनिक राज्य: 1947 से अब तक

     11-03-2019 12:41 PM


  • रोज़ के भाग दौर भरी जिंदगी में फसा एक युवक
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     10-03-2019 12:39 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.